Advertisement

ये हैं हिन्दी फिल्मों के यादगार 25 डायलॉग जो चढ़ गए लोगों की जुबान पर

बॉलीवुड में हर साल कई सौ फिल्में बनती हैं और रिलीज हो जाती हैं। लेकिन लोग कुछ को याद रखते हैं और कुछ को भूल जाते हैं। जी हां, दर्शकों की जुबान में यदि कुछ रहता है तो वो है फिल्‍म के गाने और उसके डायलॉग।

629

बॉलीवुड में हर साल कई सौ फिल्में बनती हैं और रिलीज हो जाती हैं। लेकिन लोग कुछ को याद रखते हैं और कुछ को भूल जाते हैं। जी हां, दर्शकों की जुबान में यदि कुछ रहता है तो वो है फिल्‍म के गाने और उसके डायलॉग। अच्छे डायलॉग की उम्र फिल्म से कहीं ज्यादा बड़ी होती है। सिनेमा के हर दौर में ऐसी फिल्में आई हैं, जिनके डायलॉग लोगों की जुबान पर चढ़ गए। कुछ डॉयलॉग्स ऐसे रहे हैं, जिन्होंने बड़े पर्दे पर फिल्‍म के सीन्स में जान फूंक दी।

Advertisement

बॉलीवुड के कुछ ऐसे ही 25 डायलॉग्स जो सबसे ज्यादा लोगों की पसंद बने

धर्मेद्र, फिल्म ‘शोले’ में – बसंती इन कुत्तों के सामने मत नाचना…”

अमजद खान, ‘शोले’ में – यह हाथ मुझे दे दे ठाकुर!”

‘शहंशाह’ में अमिताभ बच्चन – “रिश्ते में हम तुम्हारे बाप लगते हैं, नाम है शहंशाह!”

‘दीवार’ में अमिताभ बच्चन – आज तो बहुत खुश होगे तुम…”

‘दीवार’ में अमिताभ बच्चन – “मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता।”

‘दीवार’ में शशी कपूर – “मेरे पास मां है…”

‘अमर प्रेम’ में राजेश खन्ना – “पुष्पा आई हेट टीयर्स!”

‘कालिया’ में अमिताभ बच्चन – “हम जहां से खड़े होते हैं लाइन वहीं से लगती है।”

‘जंजीर’ में अमिताभ बच्चन – यह पुलिस स्टेशन है तुम्हारे बाप का घर नहीं!”

धर्मेंद्र ‘शोले’ में – कुत्ते मैं तुम्हारा खून पी जाऊंगा…”

‘मर्द’ में अमिताभ बच्चन –मर्द को दर्द नहीं होता…” 

‘दामिनी’ में सनी देओल – तारीख पर तारीख, तारीख पर तारीख…”

शाहरुख खान, ‘देवदास’ में – कौन कमबख्त बर्दाश्त करने के लिए पीता है…”

‘वॉन्टेड’ में सलमान खान – अगर मैने एक बार कमिटमेंट की तो मैं खुद की भी नहीं सुनता”

राजकुमार ‘वक्त’ में – जिनके घर शीशे के होते हैं वह दूसरों के घर पत्थर नहीं फेंका करते।”

‘पाकीजा’ में राजकुमार – आपके पांव बहुत खूबसूरत है, इन्हें जमीन पर मत रखिएगा… मैले हो जाएंगे।”

‘राउडी राठौड़’ में अक्षय कुमार – “जो मैं बोलता हूं वो करता हूं, और जो नहीं बोलता वो डेफ़िनेटली करता हूँ…”

‘डर्टी पिक्चर’ में विद्या बालन – “जिंदगी एक मिली है तो दो बार क्या सोचना…”

जब वी मेट’ में करीना कपूर – मुझे न बचपन से शादी करने का बड़ा क्रेज है बायगॉड!”

‘डॉन’ में शाहरुख खान – डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है।”

‘डॉन’ में शाहरुख खान – “डॉन के दुश्मन की सबसे बड़ी गलती, कि वो डॉन का दुश्मन है।”

‘आनंद’ में राजेश खन्ना – हम सब इस रंगमंच की कठपुतलियां हैं जिसकी डोर ऊपर वाले हाथों में है।”

सलमान खान ‘बॉडीगार्ड’ में – मुझपे एक अहसान करना कि मुझ पर कोई एहसान न करना…”

‘राउडी राठौड़’ में अक्षय कुमार – “जो मैं बोलता हूं वो करता हूं, और जो नहीं बोलता वो डेफ़िनेटली करता हूं…”

सनी देओल ‘मां तुझे सलाम’ – “दूध मांगोगे तो खीर देंगे, कश्मीर मांगोगे तो चीर देंगे”

‘थ्री इडियट्स’ में शरमन जोशी – जहांपना तुसी ग्रेट हो, तोहफा कुबूल करो…”

ये थे बॉलीवुड के सब से यादगार डायलॅाग्स । इनमें आपके कौन से पसंदीदा है ?

Advertisement