Advertisement

कंगना ने बहन रंगोली का किया बचाव, तो फ़राह अली खान ने भी कह दिया कुछ ऐसा

निर्देशक संजन खान की बेटी फराह अली खान(Farah Ali Khan) ने कंगना रनौत(Kangana Ranaut) को बहन रंगोली चंदेल(Rangoli Chandel) के ट्वीट को लेकर खुला पत्र लिखा

299
बॉलीवुड(Bollywood) की मशहूर अभिनेत्री कंगना रनौत(Kangana Ranaut) की बहन रंगोली चंदेल(Rangoli Chandel) की कॉन्ट्रोवर्सी दिनों -दिन कम होने के बदले बढ़ते जा रही हैं। ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने के बाद रंगोली पर मुंबई में एफआईआर तक दर्ज हो चुकी है। इस पूरी कॉन्ट्रोवर्सी में रंगोली को बहन कंगना का समर्थन हासिल हैं। वहीं पहले रंगोली के ट्वीट को रिपोर्ट करने के बाद अब निर्देशक संजन खान की बेटी फराह अली खान(Farah Ali Khan) ने कंगना रनौत को खुला पत्र लिख दिया हैं।  

Advertisement

 
फराह अली खान ने ट्वीट के माध्यम से पत्र को शेयर करते हुए लिखा कि, “मेरी प्यारी कंगना, मैं इससे शुरुआत करूंगी कि, “मैं आपकी बहुत बड़ी फैन हूं”। मैंने रंगोली के ट्वीट पर इसलिए प्रतिक्रिया दी थी, क्योंकि उन्होंने विशेष रूप से वह शब्द ‘नाजी’ और ‘मुल्ला’ एवं  ‘सेक्युलर मीडिया’ जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया था।  रंगोली ने अपने ट्वीट में लिखा था कि, ” मुल्ला  और सेक्युलर मीडिया को लाइन में खड़ा करके, गोली मारकर हत्या कर देनी चाहिए। इतिहास को छोड़ो, वह हमें ‘नाजी’ कहेंगे, लेकिन क्या फर्क पड़ता है, जिंदगी ज्यादा जरूरी है, झूठी इमेज से”।

 
फराह खान अली (Farah Khan Ali) ने आगे लिखा कि, “नाजी शब्द, ज्यूस के नरसंहार का पर्याय है, जहां छह मिलियन से ज्यादा ज्यूस लोगों को हिटलर द्वारा मार दिया गया था। नाजी ने ही वर्ल्ड वॉर (2) को लीड किया था, तो ‘नाजी’ शब्द का इस्तेमाल करना बिल्कुल गलत है, घृणास्पद है और कानून के विरुद्ध है”। फराह का कंगना को यह पत्र सोशल मीडिया पर आग की तरह वायरल हो रहा है।  वहीं लोग फराह के इस ट्वीट पर खूब प्रतिक्रिया भी दे रहे हैं। 

 

 

यह भी पढ़ें- ट्विटर अकाउंट सस्पेंड होने के बाद कंगना की बहन रंगोली की मुश्किलें और बढ़ीं, पुलिस में दर्ज हुआ मामला

 

 
बता दें कि, रंगोली चंदेल ने कोरोना संक्रमण के लिए तब्लीगी जमात और मरकज से जुड़े लोगों को जिम्मेदार ठहराया था। इसी विवादित पोस्ट के बाद ट्विटर ने रंगोली चंदेल का अकाउंट सस्पेंड कर दिया था। बॉलीवुड जगत से जुडी ऐसी चटपटी खबरों के लिए बॉलीवुड बबल हिंदी के साथ बने रहियें।  

Advertisement