Advertisement

जामिया: पुलिस की बर्बरता पर भड़के बॉलीवुड सितारे, कड़े शब्दों में की निंदा

बीते रोज 15 दिसंबर को दिल्ली के जामिया नगर इलाके में छात्रों और पुल‍िस के बीच जमकर झड़पे हुुुुुईं। लगातार बढ़ रहे इस विरोध और पुल‍िस द्वारा कि‍ए जा रहे व्‍यवहार पर फिल्‍मी सितारों ने भी अपना रिएक्‍शन दिया है।

1,189

कुछ दिनों पहले ही पास हुए नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act 2019) का विरोध पूरे देश में जोर शोर के साथ हो रहा है। इतना ही नहीं लोगों को इसको लेकर काफी नाराजगी भी देखने को मिल रही है। लोग सड़कों पर आ रहे हैं और जोर शोर के साथ प्रदर्शन कर रहें हैं। बता दें, बीते रोज 15 दिसंबर को दिल्ली के जामिया नगर इलाके में छात्रों और पुल‍िस के बीच जमकर झड़पे हुुुुुईं। लगातार बढ़ रहे इस विरोध और पुल‍िस द्वारा कि‍ए जा रहे व्‍यवहार पर फिल्‍मी सितारों ने भी अपना रिएक्‍शन दिया है। जानें किसने क्‍या कहा…

Advertisement

बॉलीवुड की बेबाक एक्‍ट्रेस स्‍वरा भास्‍कर ने ट्विटर हैंडल से छात्रों पर किए गए हमले पर दिल्ली पुलिस और प्रशासन पर निशाना साधते हुए कहा, “हिंसा के चौंकाने वाले मैसेज। छात्रों के साथ अपराधियों जैसा व्यवहार क्यों किया जा रहा है? हॉस्टल में आंसू गैस का उपयोग क्यों हो रहा है? दिल्ली पुलिस ये क्या चल रहा है। चौंकाने वाला और शर्मनाक।”

एक्ट्रेस ऋचा चढ्डा ने भी दिल्ली पुलिस द्वारा छात्रों पर की गई बर्बरता की निंदा की है।

एक्ट्रेस कोंकणा सेन ने दिल्ली पुलिस की निंदा की है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘दिल्ली पुलिस को शर्म आनी चाहिए। हम छात्रों के साथ हैं।’

(यह भी पढ़ें : दीपिका का बेल्‍ट देख लोगों को आई कियारा आडवाणी की याद, फिर कुछ यूं कर दिया ट्रोल)

View this post on Instagram

Now interrupting our regular programming to say this: USE YOUR VOICE. India is witnessing a horrifying spate of discriminatory, fascist, authoritarian, anti-secular efforts to suppress voices raised in debate and dissent against #CAB and the #NRC. Even if you don’t agree, you cannot just watch the injustice meted out and be unmoved. Seeing the courage of youth as protests rage on in #Delhi despite unwarranted violence and trauma inflicted on STUDENTS by the Delhi police, makes me want to at least in a small way, raise my voice in support of the country we know and love and will fight for: NOT what the current administration wants it to be ?? If Hong Kong protests could reverse an unjust law imposed on its citizens by China, surely this DEMOCRACY will have to listen to the voices of strident protest from its citizens from all corners of this nation. THIS IS YOUR HOME. TIME TO SPEAK TRUTH TO POWER. You might think you’re safe, you will not be affected, but WAKE UP. History proves dictators and authoritarian regimes spare no one but themselves. Don’t be fooled by vote bank politics. This isn’t even about Hinduism. It’s about POWER. . . Repost from @naqvi_sarah using @RepostRegramApp – Everyone following me right now, I beg you to act now, turn up for the protests, stand by students, this isn’t happening to 'others' anymore, this is violence against your own, your best friend, your sister, your partner, your neighbour! You were to scream when it all began, but if you didn’t, do it now! RISE NOW! You kept quiet when they came for Kashmir, for trans people and their rights, for indigenous communities, for muslims, and other marginalised groups, there isn’t much left! No one is safe, no one but the oppressors! This is in your home, hate is being spewed in your own house! WE DONT NEED YOUR LIKES, SHOW ME YOUR VOICE!

A post shared by lisaraniray (@lisaraniray) on

बता दें, जामिया विश्वविद्यालय के प्रशासन और छात्रों का आरोप है कि पुलिस ने उनके साथ बर्बरता की। कैंपस में पुलिस ने काफी विद्यार्थियों पर लाठी चार्ज किया और आंसू गैस से भी वार किया। बॉलीवुड और मनोरजंन से जुड़ी सभी ताजा खबरों को जानने के लिए बॉलीवुड बबल के साथ बने रहें।

Advertisement