होम » टीवी » कुंडली भाग्य अपडेट : करण को पास बुलाने के लिए माहिरा ने खुद के कमरे में लगाई आग, जानिए क्या हुआ आगे

Advertisement

कुंडली भाग्य अपडेट : करण को पास बुलाने के लिए माहिरा ने खुद के कमरे में लगाई आग, जानिए क्या हुआ आगे

कुंडली भाग्य (Kundali Bhagya) में शर्लिन, माहिरा को अपनी योजना बताती है जिसमें वह चाहती है कि माहिरा, करण को बताए कि वह आग में फंस गई है, इसलिए वह उसे बचाने के लिए वहां पहुंचेगा। पर जानिए आगे क्या हुआ ये जानिए।

58

कुंडली भाग्य (Kundali Bhagya) आज रात का एपिसोड शर्लिन के साथ शुरू होता है जिसमें वह माहिरा को 9 वीं मंजिल पर जाकर आग लगाने के लिए कहती है। माहिरा इसके बारे में सोचती है। शर्लिन, माहिरा को अपनी योजना बताती है जिसमें वह चाहती है कि माहिरा, करण को बताए कि वह आग में फंस गई है, इसलिए वह उसे बचाने के लिए वहां पहुंचेगा। माहिरा को उसकी योजना अच्छी लगती है। दूसरी तरफ प्रीता और करण एक साथ रेस्टॉरेंट में क्वालिटी टाइम बिता रहे हैं। करण यहां प्रीता को छेड़ रहा है कि वह लड़कियों की तरह क्यों शर्मा रही है।

Advertisement

शर्लिन माहिरा को बताती है कि कैसे आग लगाई जाए और साथ ही साथ ही वह खुद को कैसे बचा सकती हैं,  यदि करण समय पर वहां नहीं पहुंचता है। तब  माहिरा करण को बुलाती है और उसे यह कहते हुए घबराती है कि वह होटल के एक कमरे में आग में फंस गई है। करण यह सुनकर घबरा जाता है और प्रीता को बिना बताए रेस्टॉरेंट से माहिरा को बचाने के लिए भागता है।

लेकिन प्रीता ने सुन लिया कि करण सिल्वरलीफ़ होटल जा रहा है। शर्लिन उस समय माहिरा को कॉल करके  योजना के अनुसार आग लगाने के लिए कहती है। करण रास्ते में है। शर्लिन करण को और पैनिक तरीके से माहिरा के बारे में बताती है और ज्यादा डराकर बुलाती है। तब वह माहिरा को कमरे में आग लगाने के लिए मैसेज करती है क्योंकि करण रास्ते में है।

माहिरा कमरे के कुछ हिस्से में आग लगा देती है और मदद के लिए चिल्लाना शुरू कर देती है। लेकिन कृतिका वहां पहुंचती है। वह माहिरा की मदद करने की कोशिश करती है लेकिन शर्लिन उसे वहां से हटा देती है। इससे कृतिका के पैर में चोट लग जाती है।

शर्लिन मदद के लिए होटल मैनेजमेंट से बात करने का नाटक करती है। तब तक प्रीता होटल पहुंच जाती है। वहां कृतिका प्रीता को बताती है कि माहिरा आग में फंस गई है। ये सुन  प्रीता माहिरा की मदद करने के लिए दौड़ती है। माहिरा के मदद मांगने वाली आवाज सुनती है। इसलिए वह दूसरे हिस्से में भी आग लगा देती है। लेकिन जब वह प्रीता को खिड़की पर देखती है, तो वह चौंक जाती है और उदास हो जाती है। प्रीता शीशे का दरवाजा तोड़ने की कोशिश करती है। माहिरा उसे परेशान नहीं होने के कारण उसकी मदद करने के लिए कहती है लेकिन प्रीता माहिरा को बचाने के लिए बहुत कोशिश करती है।

[यह भी पढ़ें : कुंडली भाग्य अपडेट: प्रीता ने माहिरा को करण की दूसरी औरत कह दिया, माहिरा ने जड़ा थप्पड़]

माहिरा प्रीता से कहती है कि वह करण को उसे बचाने दे। प्रीता उसे बताती है कि करण वहां मौजूद नहीं है । वह माहिरा को बाहर आने के लिए कहती है, तब माहिरा कहती है कि जब तक करण उसे बचाने नहीं आएगा वह कमरे से बाहर नही आएगी। प्रीता समझ जाती है कि माहिरा ने ये आग खुद लगाई है।

दूसरी तरफ करण होटल पहुचता है। शर्लिन उसे माहिरा को बचाने के लिए कहती है। कृतिका, करण के पीछे जाने की कोशिश करती है लेकिन शर्लिन उसे चक्कर आने का बहाना करके रोक देती है।

 

Advertisement