Advertisement

लव आजकल मूवी रिव्यू: हर कोई बर्दाश्त नहीं कर पाएगा रूहानी मोहब्बत की ये कहानी

इम्तियाज़ अली फिर एक बार हाज़िर हैं अपनी फिल्म लव आजकल (लव aajkal) लेकर। टाइटल और ट्रेलर से फिल्म दर्शकों मे ख़ास जगह बनाने मे कामयाब हुई।

256
  • सिनेमा – लव आजकल
  • सिनेमा प्रकार – लवस्टोरी
  • अदाकार– कार्तिक आर्यन, सारा अली खान, रणदीप हुड्डा
  • निर्देशक – इम्तियाज़ अली
  • अवधि – 2 घंटे 21 मिनट

Advertisement

प्रस्तावना

इम्तियाज़ अली फिर एक बार हाज़िर हैं अपनी फिल्म लव आजकल (लव aajkal) लेकर। टाइटल और ट्रेलर से फिल्म दर्शकों मे ख़ास जगह बनाने मे कामयाब हुई। सारा अली खान (sara ali khan) और कार्तिक आर्यन (kartik aaryan)  की जोड़ी के कारण फिल्म ख़ूब चर्चा मे भी है। पर क्या ये फिल्म आपका मनोरंजन कर पाएगी या नहीं? आइये जानते हैं।

कहानी

फिल्म की कहानी मे दो प्रेम कहानियाँ हैं। एक 1990 की और दूसरी 2020 की। दोनों प्रेम कहानियाँ साथ चलती हैं। 1990 की कहानी मे रघु (कार्तिक आर्यन) लीना (आरुषि शर्मा) से मोहब्बत करता है तो दूसरी कहानी मे वीर (कार्तिक आर्यन) को ज़ोई (सारा अली खान) से इश्क़ है। दोनों कहानियों मे दिखाया गया है कि नज़दीकियाँ बढ्ने पर कैसे दूरियाँ बढ़ जाती हैं। रघु अपनी मोहब्बत के लिए सब कुछ छोड़ देता है पर जब वो उसे मिलती है तो वो उससे मुंह मोड लेता है। दूसरी ओर लीना को अपनी मोहब्बत मिल रही होती है तो वो करियर के लिए उससे दूर हो जाती है। इश्क़ का ये सफ़र आगे बढ़ता है और रूहानी मोहब्बत रूबरू कराता है। क्या रघु-लीना और वीर-ज़ोई अंत मे एक दूसरे के हो पाते हैं या नहीं ? ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

अदाकारी

फिल्म की कहानी के अनुसार कार्तिक आर्यन, सारा अली खान ने अच्छी अदाकारी की है। रणदीप हुडा ने भी अपनी मौजूदगी का एहसास कराया है। बाकी कलाकार भी ठीकठाक हैं।

निर्देशन

इम्तियाज़ अली ने फिल्म का निर्देशन अपने खास अंदाज़ मे किया है। उनकी फिल्मों मे गहरी बातें होती हैं। इस फिल्म मे भी उनकी ख़ासियत झलकती है। हमेशा की तरह भारत दर्शन भी उन्होने शानदार तरीके से कराया है। हालांकि फिल्म को वो और मनोरंजंक कर सकते थे।

संगीत

फिल्म के गाने और बैकग्राउंड स्कोर ठीकठाक है।

ख़ास बातें

  1. सारा और कार्तिक की केमिस्ट्री।
  2. इम्तियाज़ अली के फैंस को लुभाएगी।
  3. लोकेशन बहुत अच्छे हैं।

कमजोर कड़ियाँ

  1. हर कोई बर्दाश्त नहीं कर पाएगा।
  2. परिवार के साथ नहीं देख सकते हैं।
  3. संवाद और बेहतर हो सकते थे।
  4. फिल्म छोटी हो सकती थी।
  5. दूसरे हिस्से मे फिल्म बहुत उबाती है।

देखें या ना देखें

अगर आप इम्तियाज़ अली, कार्तिक आर्यन और सारा अली खान के फैंस हैं तो ही इस फिल्म को देखें।

रेटिंग – 2/5

Advertisement