Advertisement

मेड इन चाइना मूवी रिव्यू : कॉमेडी के साथ सामाजिक संदेश परोसती हैं राजकुमार राव और मौनी रॉय की यह फिल्म

निर्देशक मिखिल मुसाले के निर्देशन में बनी 'मेड इन चाइना(Made In China)' में राजकुमार राव (Raj Kumar Rao) और मौनी रॉय (Mouni Roy) की केमिस्ट्री देखने को मिल रही है। फिल्म देखने से पहले इसका रिव्यू ज़रूर पढ़ें।

1,708
  • सिनेमा – मेड इन चाइना
  • सिनेमा प्रकार – कॉमेडी ड्रामा
  • अदाकार – राजकुमार राव,मौनी रॉय,परेश रावल,बोमन ईरानी,गजराज राव,अमायरा दस्तूर,सुमीत व्यास
  • निर्देशक – मिखिल मुसाले
  • अवधि – 2 घंटे 8 मिनट

Advertisement

प्रस्तावना

निर्देशक मिखिल मुसाले द्वारा परोसी  गई ‘मेड इन चाइना’ एक साधारण गुजराती शख्स की है जो बिजनेस में आगे बढ़ने के लिए काफी स्ट्रगल करता है। इस दौरान उसके जीवन में क्या उतार चढ़ाव आते है, उसमें कॉमेडी का तड़का लगाकार पेश किया गया है। सेक्स से जुड़ी सामाजिक समस्या को भी इस फिल्म में दिखाने की कोशिश की गई है। अगर आप फिल्म देखना चाहते हैं तो पहले नीचे फिल्म की कहानी  ज़रूर पढ़ लें।

कहानी

फिल्म सफल बिजनेसमैन बनने की ख्वाहिश रखने वाला रघु मेहता (राजकुमार राव) की है। वह सक्सेस फुल बनने के लिए अलग-अलग बिजनेस के आईडियाज़ लेकर आता है। पर सारे आईडियाज़ फेल हो जाते हैं। पर रघु की इस कोशिश में उसकी पत्नी रुक्मिणी (मौनी रॉय) हमेशा उसके साथ खड़ी रहती है। यहां तक कि रघुवीर का कजिन वनराज (सुमीत व्यास) और उसके बड़े पापा ( मनोज जोशी) उसे पैसे तो देते हैं लेकिन उसका मनोबल भी तोड़ने की कोशिश करते हैं। तब बिजनेस के सिलसिले में रघु, वनराज के साथ चाइना जाने का मौका मिलता है। चाइना में उसकी मुलाकात बिजनसमैन तन्मय शाह (परेश रावल)  से होती है जो रघुवीर के सफल बिजने के गुर सिखाता है। इस गुर को रघु इंडिया में आकर अपनाता है और अपना व्यापार आगे बढ़ाने की ठानता है। इसमें उसका साथ बोमन ईरानी देते हैं जो एक सेक्सॉलजिस्ट डॉक्टर हैं। तो क्या रघु अब सफल बिजनेस मैन बन पाएगा? इस बीच उसके रास्ते में कई बड़ी अड़चने आती हैं जिसे देखने के लिए आपको सिनेमाघरों की तरफ रूख करना होगा।

निर्देशन

मिखिल मुसाले की निर्देशित की हुई यह पहली फिल्म है, जहां फर्स्ट हाफ थोड़ा उबाउ लगता है। पर सेकंड हाफ में फिल्म की कहानी दिलचस्प मोड़ लेती है। फिल्म गुजराती तड़का डालने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ा है।

अदाकारी

अदाकारी के मामले में राजकुमार राव ने खुद को साबित कर दिया है कि एक सफल अभिनेता  बनने के उनमें सार गुण हैं। मौनी रॉय यहां अपने अभिनय में छोड़ी कमजोर दिखाई दीं। पर परेश रावल और बोमन ईरानी ने अपने दमदार अभिनय की छाप छोड़ी।

संगीत

नेहा कक्कड़, दर्शन रावल और सचिन-जिगर का गाया गाना, ‘ओढ़नी’ को लोग खूब पसंद कर रहे हैं।

ख़ास बाते

  • राजकुमार राव की बेहतरीन अदाकारी
  • कुछ गाने जैसे ‘ओढ़नी’ लुभाते हैं।
  • फिल्म के कुछ हिस्से मनोरंजक हैं।

कमज़ोर कड़ियां

  • मौनी रॉय की कमज़ोर अदाकरी
  • फिल्म का फर्स्ट हाफ उबाता है

क्यों देखे

हल्क फुल्का मनोरंजन चाहते हैं तो देखें ‘मेड इन चाइना’ ।

रेटिंग

2.5/ 5

 

80%
Awesome
  • Design

Advertisement