Advertisement

मानहानि के बाद अब कोर्ट ने तनुश्री पर लगाई एक और पाबंदी, जानकर हो जाएंगे हैरान

बॉलीवुड एक्‍ट्रेस तनुश्री दत्‍ता (Tanushree Dutta) अक्‍सर अपनी बेबाक बयानबाजी और दिग्‍गज एक्‍टर नाना पाटेकर (Nana Patekar) पर नए-नए आरोप लगाने को लेकर सुर्खियां बटोरती रहती हैं।

1,328

बॉलीवुड एक्‍ट्रेस तनुश्री दत्‍ता (Tanushree Dutta) अक्‍सर अपनी बेबाक बयानबाजी और दिग्‍गज एक्‍टर नाना पाटेकर (Nana Patekar) पर नए-नए आरोप लगाने को लेकर सुर्खियां बटोरती रहती हैं। लेकिन इस बार उनके साथ कुछ उल्‍टा हो गया है। दरअसल, इस बार उनके खिलाफ नाना पाटेकर के एनजीओ ‘नाम फाउंडेशन’ ने तनुश्री दत्ता पर 25 करोड़ रुपये की मानहानि का दावा ठोका है। जिसके बाद बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने तनुश्री को प्रेस कॉन्फ्रेंस में नाना पाटेकर के नाम और फाउंडेशन के खिलाफ किसी भी तरह का आरोप लगाने से रोक दिया है। जानें क्‍या है पूरा मामला..

Advertisement

गौरतलब है कि तनुश्री दत्‍ता (Tanushree Dutta) कई बार नाना पाटेकर और उनके एनजीओ पर भ्रष्टाचार समेत दूसरे गंभीर आरोप लगा चुकी हैं। ऐसे में हाईकोर्ट में दाखिल याचिका में नाना पाटेकर और मकरंद अनासपुरे द्वारा साल 2015 में शुरु किए एनजीओ ने कहा है कि वह लगातार सूखे से प्रभावित इलाकों में किसानों की बेहतरी की दिशा की तरफ काम कर रहा है। लेकिन पिछले महीने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में तनुश्री दत्‍ता ने जो आरोप लगाए हैं उसकी वजह से उनके फाउंडेशन की प्रतिष्ठा को क्षति पहुंच रही हैं। ऐसे में तनुश्री कोर्ट में अनुपस्थित रही जिसके बाद न्यायमूर्ति एके मेनन ने एनजीओ को राहत प्रदान की है।

(यह भी पढ़ें : शादी के बाद काम्या पंजाबी ने पति संग धूमधाम से मनाई पहली होली, देखें वायरल तस्वीरें)

वहीं इस बारे में तनुश्री दत्‍ता (Tanushree Dutta)ने कहा है कि वह जवाब दाखिल करने की प्रक्रिया में थी और वह फाउंडेशन के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग करेंगी। गौरतलब है कि महिलाओं के साथ होने वाले छेड़छाड़ के खिलाफ अभियान में तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) ने प्रमुख भूमिका निभाई थी। तनुश्री ने नाना पाटेकर (Nana Patekar) पर हॉर्न ओके प्लीज फिल्म के सेट पर छेड़खानी का आरोप लगाया था।

Advertisement