होम » टीवी » घर चलाने के लिए नुपूर अलंकार को बेचने पड़े गहने

Advertisement

घर चलाने के लिए टीवी एक्ट्रेस नुपूर अलंकार को बेचने पड़े गहने, खुद किया खुलासा

टीवी एक्ट्रेस नूपुर अलंकार (Nupur Alankar) को पैसोंं की कमी के चलते कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। यही नहीं नुपूर को घर चलाने के लिए अपने गहने तक गिरवी रखना पड़ा।

189

किसी ने सही कहा है समय हमेशा एक समान नहीं होता है। यह कब बदल जाए कोई कुछ नहीं कह सकता है। ऐसा ही कुछ टीवी एक्ट्रेस नूपुर अलंकार (Nupur Alankar) के साथ हो रहा है, जो इन दिनों काफी मुश्किलों से जूझ रही हैं। उन्हें घर खर्च चलाने के लिए काफी परेशानी का सामना करना पड़ा रहा है। इस बात का खुलासा खुद नूपुर ने किया। दरअसल पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल ही में 24 सितंबर को एक नोटिस जारी कर छह महीनों के लिए लेनदेन से लेकर कई तरह की पाबंदी लगा दी है। इसी का खामियाजा नुपूर जैसे कई लोगों को भुगतना पड़ रहा है, जिनके इस बैंक में अकाउंट्स हैं।

Advertisement

RBI के इस आदेश के बाद PMC बैंक किसी भी तरह का कोई नया लोन नहीं दे सकता, साथ ही कोई भी ग्राहक बैंक से 25,000 रुपये से ज्यादा नहीं निकाल सकता।  इसी सिलसिले में नुपूर ने टाइम्स ऑफ इंडिया को बताया ““मैं एक बड़े वित्तीय संकट का सामना कर रहा हूं। मेरे पास अन्य बैंकों में भी खाते थे, जिन्हें मैंने कुछ साल पहले इस बैंक में (PMC) ट्रांसफर किया था। मुझे इसका पता नहीं था कि मेरे परिवार के सदस्य – मां, बहन, पति, ननद और ससुर – और मेरी जिंदगी की बचत की हुई राशि इस तरह से फ्रीज कर दिया जाएगा।

[यह भी पढ़ें: बिग बॉस 13: आरती के कान के पास आकर सिद्धार्थ संग उसकी दोस्ती पर चिल्लाईं शहनाज, देखें वीडियो]

नुपूर बताती हैं “भारतीय रिज़र्व बैंक ने iग्राहकों के  लिए निकासी की सीमा को घटाकर `1,000 कर दिया और बाद में इसे बढ़ाकर` 10,000 और फिर `25,000 प्रति व्यक्ति कर दिया। लेकिन उन पैसों को छह महीने में एक बार ही निकाला जा सकता है। पैसे के बिना कैसे सर्वाइव किया जाए ? क्या मुझे अब अपना घर गिरवी रखना चाहिए? मेरी खुद की मेहनत की कमाई पर पाबंदी क्यों? मैं इनकम टैक्स अदा कर रही हूं, फिर क्यों मुझे सफर करना पड़ रहा है?

नुपूर आगे कहती हैं “हाल ही में एक नोटिस जारी किया गया था कि हम बच्चों की शिक्षा या चिकित्सा आपातकाल के मामले में `50,000 से एक लाख तक निकाल सकते हैं। परिवार का एक सदस्य गंभीर था, लेकिन हम उसे अस्पताल में भर्ती नहीं कर सकते थे। हमने अब उसके पास जाने के लिए घर में एक नर्स को काम पर रखा है। इसके अलावा, हमारा कोई भी क्रेडिट या डेबिट कार्ड काम नहीं कर रहा है।”

नुपूर को घर खर्च चलाने के लिए अपनी जूलरी तक बेचनी पड़ी। उनका कहना है “घर पर पैसे नहीं होने और हमारे सभी खाते फ्रीज होने के कारण, मेरे पास कोई विकल्प नहीं बचा था, पर मैंने अपने गहने बेच दिए। मुझे वास्तव में, एक को एक्टर से `3,000 उधार लेना पड़ा। एक अन्य ने मेरे आने जाने के लिए `500 का ट्रांसफर किया। अब तक, मैंने दोस्तों से 50,000 रु उधार ले लिए। यह स्पष्ट नहीं कि समस्या का समाधान कब होगा और हमें डर है कि हम अपना पैसा खो देंगे, ”।

 

Advertisement