होम » फीचर » सैफ अली खान के जन्मदिन पर उनकी बेस्ट फिल्में

Advertisement

सैफ अली खान के 49 वें जन्मदिन पर जानते हैं उनकी पांच दमदार फिल्मों के बारे में

सैफ अली खान (Saif Ali Khan) आज अपना 49 वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। तो चलिए आपको बताते हैं उन पांच फिल्मों के बारे में जिसमें छोटे नवाब का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला।

37

सैफ अली खान (Saif Ali Khan) का आज  यानी 16 अगस्त को 49 वां जन्मदिन है। वहीं सैफ इन दिनों अपने परिवार के साथ लंदन में समय बिता रहे हैं। जन्मदिन पर सैफ के फैन उन्हें जमकर बधाई दे रहे हैं। तो वहीं सैफ भी लंदन में अपने परिवार इस बार अपने परिवार के साथ जन्मदिन मनाने के मूड में हैं।

Advertisement

जन्मदिन के इस मौके पर यदि सैफ अली खान के फिल्मी करियर की बात की जाए तो, उन्होंने फिल्म ‘परंपरा’ से 1993 में अपने करियर की शुरूआत की थी। हालांकि यह फिल्म असफल रही बड़े पर्दे पर। पर 1994 में आई फिल्म ‘ये दिल्लगी’ और ‘मैं खिलाड़ी तु अनाड़ी’ ने सैफ को बॉलीवुड में एक नई पहचान दी। दिल चाहता है उनके करियर की टर्निंग प्वाइंट फिल्म थी और फिल्म में उनके प्रदर्शन के लिए उनकी सराहना की गई। इसके बाद उन्होंने अपने करियर में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और शानदार अभिनय देना शुरू कर दिया।

आइए हम उन पांच फिल्मों के बारे में बताते हैं जिसमें सैफ अली खान का शानदार अभिनय देखने को मिला।

हम तुम

बॉलीवुड में यह फिल्म हटकर है। फिल्म में सैफ ने करण कपूर का किरदार निभाया है। उनके इस किरदार को लोगों ने खूब पसंद किया। इस फिल्म के लिए उन्हें बेस्ट एक्टर के लिए नैशनल अवार्ड का खिताब जीता था।

ओमकारा

विशाल भारद्वाज की इस फिल्म में सैफ ‘लंगड़ा त्यागी’ के रूप में विलेन का किरदार निभाया, जिसे देख हर कोई हैरान रह गया। उनके शानदार प्रदर्शन के लिए उनकी सराहना की गई। फिल्म में उनकी झलक देख सकते हैं यहां।

परिनीता

इस म्यूज़िकल रोमांटिक ड्रामा फिल्म में सैफ के शेखर के किरदार से हर किसी को प्यार हो गया।  एक भावुक प्रेमी के रूप में उनकी भूमिका को प्रशंसकों से काफी सराहना मिली।

लव आज कल

इम्तियाज़ अली की इस फिल्म में सैफ ने दोहरी भूमिका निभाई। उनके एक किरदार का नाम था जय वर्धन सिंह और दूसरे किरदार का नाम युवा वीर सिंह है। दोनो किरदार को एक तरीके से निभाना किसी के लिए आसान नहीं था। लेकिन छोटे नवाब ने बड़ी ही सहजता के साथ इसे निभाया।

कल हो न हो

इस फिल्म में सैफ ने सपोर्टिंग रोल रोहित के रूप में नज़र आए। इसके बावजूद उन्होंने फिल्म में लाइमलाइट बटोरी। इस फिल्म में उनके किरदार ने सच्चे अर्थों में प्यार और दोस्ती को फिर से परिभाषित किया। इसमें सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के लिए फिल्मफेयर पुरस्कार जीता।

Advertisement