Advertisement

ख़ास कार्यक्रम से सलमान की बीइंग ह्यूमन का शुक्रिया अदा करेगी ‘पिक्चर पाठशाला’

पिक्चर पाठशाला (picture pathshala) की टीम 28 जनवरी को एक कार्यक्रम का आयोजन करेगी। जहाँ वह सलमान खान (salman Khan) की बीइंग ह्यूमन फाउंडेशन (being human foundation) और बुक ए स्माइल (book a smile) से मिलने वाले सहयोग और समर्थन के लिए उनका धन्यवाद करेगी।

781

पिक्चर पाठशाला (picture pathshala) की टीम 28 जनवरी को एक कार्यक्रम का आयोजन करेगी। जहाँ वह सलमान खान (salman Khan) की बीइंग ह्यूमन फाउंडेशन (being human foundation) और बुक ए स्माइल (book a smile) से मिलने वाले सहयोग और समर्थन के लिए उनका धन्यवाद करेगी। गर्ल चाइल्ड एडुकेशन पर स्थापित एक नॉन-फिक्शन शॉर्ट फिल्म “बेटी” और युद्ध से प्रभावित बच्चों पर बनी फिल्म “द फोटोग्राफ”, इसे पिक्चर पाठशाला द्वारा बनाया गया था और सिएटल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल (एसआईएफएफ) सहित दुनिया भर में 47 अन्य फिल्म फेस्टिवल में दिखाया गया है।

Advertisement

इस इवेंट में, टीम अपने काम का प्रदर्शन भी करेगी, जहाँ विभिन्न सेलेब्स उन्हें अपना समर्थन दिखाते हुए नज़र आएंगे। कुछ प्रमुख सेलेब्स जो इवेंट में आएंगे, उनमें कटरीना कैफ, सोहेल खान, अरबाज खान, सुनील ग्रोवर और आयुष शर्मा शामिल हैं।

पिक्चर पाठशाला, भारत में “कंटेंट मेड बाय चिल्ड्रन” … “टू सपोर्ट चिल्ड्रन सिनेमा फॉर चेंज” का सबसे बड़ा उत्पादक है, जिसमें 5 साल में 200 लघु फिल्मों का निर्माण किया गया, जिन्हें 47 अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोहों में दिखाया गया है।

पिक्चर पाठशाला, श्वेता पारख और अयान अग्निहोत्री की गुरु-शिष्य जोड़ी द्वारा सह-स्थापित है जो पूरे भारत में फिल्म निर्माण के रोड-ट्रिप पर है। यह संगठन एक अनुभवात्मक अधिगम मॉड्यूल है जो ग्रामीण और शहरी स्कूलों से 6 से 16 वर्ष तक के बच्चों के लिए मीडिया अध्ययन और सामुदायिक सेवा को जोड़ती है।

[यह भी पढ़ें:सारा ने सलमान खान को नवाबी अंदाज़ में किया आदाब, वीडियो में देखें भाईजान कैसे गले लगा लिया]

सैंडूक का सिनेमा स्कूल रायगढ़ का चेरिवली गाँव, पिंगुली गाँव सिंधुदुर्ग, बीकानेर के रायसर गाँव, दांडी गाँव नवसारी और लद्दाख में स्थित भारत का आखिरी गाँव तुरतुक में पहुँच गया है और जल्द जैसलमेर, असम, बंगाल और कन्याकुमारी में अपनी अगली कार्यशालाओं की तैयारी कर रहा है।

अपनी परियोजनाओं को स्व-वित्त करने के लिए पिक्चर पाठशाला ने अंतर्राष्ट्रीय स्कूलों के लिए विभिन्न कार्यक्रम भी शुरू किए हैं। जो मीडिया स्टडीज़ और कम्युनिटी सर्विस को भारत से भारत को जोड़ने का काम करते हैं। इन प्रोजेक्ट के नाम स्क्रीन सावरी, इम्पकटौर और द यूथ प्रेस है।

Advertisement