Advertisement

अनु मलिक के खिलाफ़ नहीं मिला कोई सबूत, बंद हुआ यौन उत्पीड़न का मामला

बॉलीवुड सिंगर अनु मलिक (Anu Malik) को छेड़खानी के आरोप पर बड़ी राहत मिल गई है। गौरतलब है कि पिछले साल एक अभियान के तहत सिंगर सोना महापात्रा ने उन पर छेड़खानी का आरोप लगाया था।

348

बॉलीवुड सिंगर और टीवी के चर्चित म्‍यूजिक शो ‘इंडियन आइडल’ सीजन 11 के जज अनु मलिक (Anu Malik) को छेड़खानी के आरोप पर बड़ी राहत मिल गई है। गौरतलब है कि पिछले साल एक अभियान के तहत सिंगर सोना महापात्रा ने उन पर छेड़खानी का आरोप लगाया था। बता दें, इस पूरे केस की कार्यवाही राष्‍ट्रीय महीला आयोग देख रहा था। लेकिन अनु मलिक के खिलाफ पर्याप्‍त सबूत ना मिलने पर उन पर चल इस केस को अस्‍थाई रूप से वर्तमान में बंद कर दिया गया है। जानें क्‍या है पूरा मामला..

Advertisement

स्पॉटबॉय में छपी खबर के मुताबिक राष्‍ट्रीय महिला आयोग की सेक्रेटरी भरनाली शोम ने 3 जनवरी 2020 को माधुरी मल्होत्रा को एक पत्र लिखा था। जिसमें सोना महापात्रा के ट्वीट को शामिल किया गया था। पत्र में इस बात का भी जिक्र किया गया था कि, ‘इस मामले में 6 दिसंबर 2019 को आपका जवाब आयोग को मिल चुका है। जिसके मद्देनजर, शिकायतकर्ता की ओर से परस्‍पर संवाद और पत्राचार की कमी के साथ ही पर्याप्त सबूत नहीं मिलने के चलते आयोग ने केस बंद कर दिया है।’

वहीं मुंबई मिरर से बात करते हुए राष्‍ट्रीय महिला आयोग की प्रमुख रेखा शर्मा ने कहा कि उन्होंने शिकायतकर्ता को इस बारे में लिखा था। लेकिन शिकायतकर्ता ने जवाब में लिखा कि वे इस वक्त यात्रा पर हैं और वापस लौटने पर वो मिलेंगी। जिसके बाद आयोग ने 45 दिनों तक उनका इंतजार किया और पर्याप्‍त सबूतों और कागजात की मांग की, लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं आया।

(यह भी पढ़ें : नेहा कक्कड़ और आदित्य नारायण की शादी तय, देखें शादी का कार्ड और जानें कब लेंगे दोनों 7 फेरे)

हालांकि उन्‍होंने यह साफ किया है कि यह केस का परमानेंट क्लोजर नहीं है, अगर शिकायतकर्ता पर्याप्‍त सबूत लाती हैं तो इस केस को दोबारा खोला जा सकता है। इस केस के अस्‍थाई रूप से बंद होने पर सिंगर अनु मलिक (Anu Malik) को एक बड़ी राहत जरूर मिल गई है। बॉलीवुड की ऐसी ही चटपटी खबरें जानने के लिए बॉलीवुड बबल के साथ बने रहें

Advertisement