Advertisement

सोनू सूद को बांद्रा टर्मिनस पर प्रवासी मजदूरों से मिलने से रोका गया ? मुंबई पुलिस ने दी सफाई 

अभिनेता सोनू सूद(Sonu Sood) को बांद्रा टर्मिनस पर प्रवासी मज़दूरों से नहीं दिया गया मिलने

323

अभिनेता सोनू सूद(Sonu Sood) प्रवासी मज़दूरों के लिए बस और अन्य तरीके ट्रांसपोर्ट व्यवस्था कर रहे हैं। ताकि प्रवासी मजदूर और गरीब जनता अपने गाँवों तक सुरक्षित पहुंच सकें। जिसके कारण सोशल मीडिया पर सोनू सूद की जमकर तारीफ हो रही है। वहीं शिवसेना नेता संजय राउत ने सोनू पर निशाना साधा था। उन्होंने सोनू को भाजपा का प्यादा तक करार दे दिया था। 

Advertisement

बता दें कि, राउत ने सोनू सूद पर निशाना साधते हुए कहा था कि, पैसों के लिए अभिनेता कुछ भी कर सकते हैं। अचानक लॉकडाउन में मुंबई में महात्मा कहां से आ गया ? उन्होंने सोनू के काम पर सवाल उठाते हुए कहा था कि, अभिनेता के पीछे भाजपा का हाथ है।

वहीं अब न्यूज़ एजेंसी पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई पुलिस के अफसर ने बताया कि, सोनू सूद को सोमवार की रात रेलवे सुरक्षा बल(आरपीएफ) मजदूरों से मिलने से स्टेशन पर रोका गया। यह मजदूर मुंबई से उत्तरप्रदेश जाने वाली श्रमिक ट्रेन में सवार थे। निर्मल नगर पुलिस के सीनियर इंस्पेक्टर शशिकांत भंडारे ने बताया कि, ‘सोनू सूद को रेलवे पुलिस द्वारा रोका गया, हमारे द्वारा नहीं।

हालही में संजय राउत ने सोनू सूद के खिलाफ बयान दिया था। जिसके बाद सोनू ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी। जिसके बाद उद्धव ठाकरे ने सोनू सूद द्वारा लॉकडाउन में फंसे प्रवासी मजदूरों के लिए बसों की व्यवस्था करने के लिए उनकी तारीफ की थी। इस मुलाकात की जानकारी उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे ने सोशल मीडिया के माध्यम से लोगों के साथ शेयर की थी।

 

यह भी पढ़ें- सोनू सूद को शिवसेना ने बताया भाजपा का प्यादा, कहा- ‘अभिनेता पैसों के लिए कुछ भी कर सकते हैं..’

बॉलीवुड जगत से जुड़ी हर एक अपडेट के लिए बॉलीवुड बबल  हिंदी के साथ बने रहियें।

Advertisement