Advertisement

नाना पाटेकर के ख़िलाफ़ तनुश्री दत्ता ने फ़िर खोला मोर्चा, अबकी बार खटखटाया कोर्ट का दरवाज़ा

तनुश्री ने नाना पाटेकर (Nana Patekar) पर हॉर्न ओके प्लीज़ फिल्म के सेट पर छेड़खानी का आरोप लगाया था। तो वहीं पुलिस ने इस मामले में नाना पाटेकर को क्लिन चिट दे दी, जिसके खिलाफ तनुश्री दत्ता ने अदालत में याचिका दायर की।

484

महिलाओं के साथ होने वाले छेड़छाड़ के खिलाफ अभियान में  तनुश्री दत्ता (Tanushree Dutta) ने प्रमुख भूमिका निभाई थी। तनुश्री ने नाना पाटेकर (Nana Patekar) पर हॉर्न ओके प्लीज़ फिल्म के सेट पर छेड़खानी का आरोप लगाया था। वहीं अब एक बार फिर तनुश्री नाना पाटेकर के खिलाफ अपनी आवाज उठाई है। दरअसल तनुश्री ने अभिनेता नाना पाटेकर के खिलाफ छेड़छाड़ के संबंध में अंधेरी के रेलवे मोबाइल मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट में याचिका दाखिल कर दी है। दरअसल यह याचिका पुलिस द्वारा दायर ‘बी समरी’ रिपोर्ट के विरोध में है, जहां पुलिस ने नाना को क्लिन चिट दे दी थी।

Advertisement

रिपोर्ट के अनुसार तनुश्री के वकील नितिन सत्पुते के अनुसार  पुलिस द्वारा दायर की गई रिपोर्ट झूठ है। इसलिए उन्होंने अदालत में दायर अपनी याचिका में यह मांग की, कि झूठी रिपोर्ट पेश करने के लिए जांच अधिकारी के खिलाफ अवमानना कार्रवाई की जाए। इसके अलावा यह भी मांग की गई कि सभी नर्को टेस्ट हो। इस याचिका में अदालत से यह भी दरख्वास्त की गई है कि यह केस मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच को दे दी जाए।

[यह भी पढ़ें: हैदराबाद गैंगरेप के आरोपियों के एनकाउंटर पर बॉलीवुड सितारो नें दिए रिएक्‍शन, कहा ऐसा कुछ]

बता दें कि कुछ दिनो पहले पुलिस ने इस केस को लेकर बी रिपोर्ट समरी फाइल की थी। इस रिपोर्ट में उन्होंने केस को आगे बढ़ाने से मना कर दिया है। तो वहीं मजिस्ट्रेट द्वारा इसे मंजूरी दे दी गई थी। यहां तक कि इसके  खिलाफ तनुश्री नेृले स्टेटमेंट जारी करते हुए लिखा था कि मैं अदालत के मजिस्ट्रेट से पूछना चाहती हूं इस रिपोर्ट को जो मंजूरी दी गई उसे स्वीकार करने के लिए आपने कितने पैसे खाए हैं। यह बहुत ही दुर्भावना पूर्ण है। नाना पाटेकर ने खुद को क्लीन चिट दिलाने के लिए विभिन्न अधिकारियों को रिश्वत के रूप में कितने पैसे दिए?

 

Advertisement